Friday, November 28, 2014

नतमस्‍तक मोदक की नाजायज औलादें (9)

प्रश्‍न- कुतर्क समझते हैं क्‍या होता है?
उत्‍तर- हां, बि‍लकुल समझते हैं
प्रश्‍न- क्‍या होता है?
उत्‍तर- वही जो माद****** हरामी साले स्‍टालि‍न की औलादें करती हैं।
प्रश्‍न- और तर्क क्‍या होता है?
उत्‍तर- जो हमारे हिंदू धर्म शास्‍त्रों में लि‍खा होता है, वही तर्क है।
प्रश्‍न- वि‍तर्क क्‍या होता है?
उत्‍तर- मेरा लं**** क्‍या होता है, दि‍खाऊं तुझे।
प्रश्‍न- आप तो हमेशा तर्क करते हैं ना?
उत्‍तर- बि‍लकुल। सच्‍चा हिंदू कभी कुतर्क कर ही नहीं सकता।
प्रश्‍न- एक राष्‍ट्र के बारे में अपना कोई तर्क दीजि‍ए?
उत्‍तर- जबतक इन हरामी गजनबी की औलादों को जड़ से खत्‍म नहीं कि‍या जाएगा, भारत एक राष्‍ट्र नहीं बन सकता।
प्रश्‍न- और भी तो धर्म हैं, जैसे ईसाई, पारसी, सि‍ख आदि... क्‍या उन्‍हें भी खत्‍म कि‍या जाएगा?
उत्‍तर- ईसाइयों को तो जलाकर खत्‍म कर दि‍या जाएगा। हमने परसों ही मि‍श्‍ान स्‍कूल पर हमला कि‍या था। सि‍ख तो हमारे भाई हैं।
प्रश्‍न- और बौद्ध। उनका क्‍या करेंगे?
उत्‍तर- बौद्ध धर्म हमारे देश का नहीं है। ये चीन की साजि‍श है।
प्रश्‍न- कैसी साजि‍श?
उत्‍तर- चीन हमारे यहां माओवाद भड़काना चाहता है।
प्रश्‍न- आप कैसे रोकेंगे चीन को?
उत्‍तर- हमने 77 हजार नमो जाप शुरू कराया है। 77 ब्राह्म्‍ण कर रहे हैं।
प्रश्‍न- क्‍या यह चीन को रोकने का तर्क है?
उत्‍तर- हिंदू धर्म हमें यही सि‍खाता है, यही शास्‍त्रसम्‍मत भी है।
प्रश्‍न- तो पाकि‍स्‍तान को कैसे रोकेंगे, क्‍या सीमा पर जाकर नमो जाप करेंगे?
उत्‍तर- चूति‍ये साले, देखा नही नवाज शरीफ का नाड़ा नमो ने नेपाल में कैसे ढीला कि‍या?
प्रश्‍न- नमो नेपाल में नवाज शरीफ का नाड़ा क्‍यों ढीला कर रहे थे?
उत्‍तर- अबे भो**** के, उसकी गां*** मारने के लि‍ए।
प्रश्‍न- क्‍या आपके यहां सभी लोग पुरुषों के ही शौकीन हैं?
उत्‍तर- नहीं भो***** के, तेरे भी शौकीन है गां**** साले। रुक तेरी मां की ****

Post a Comment