Thursday, November 27, 2014

नतमस्‍तक मोदक की नाजायज औलादें (5)

प्रश्‍न- आप गाय की पूजा करते हैं?
उत्‍तर- इसमें पूछने वाली कौन सी बात है, जो भी असली हिंदुस्‍तानी होगा, गाय की पूजा जरूर करेगा।
प्रश्‍न- गाय की पूजा क्‍यों करते हैं?
उत्‍तर- हिंदू धर्म हमें गाय की पूजा करना सि‍खाता है। गाय पर तो पूरा एक वेद लि‍खा गया है।
प्रश्‍न- कैसे पूजा करते हैं, मतलब पूजन वि‍धि क्‍या है?
उत्‍तर- हम गाय को ति‍लक लगाकर हाथ जोड़कर माला पहनाते हैं।
प्रश्‍न- क्‍या हर गाय के साथ ऐसा करते हैं?
उत्‍तर- पागल हो क्‍या, शहर में 70 गायें हैं, कुछ तो अक्‍ल वाला सवाल पूछ लो, या जबसे तुम्‍हारी बीवी भागी है, तुम्‍हारी अक्‍ल भी भाग गई है
प्रश्‍न- क्‍या आप रोजाना गाय का दूध प्रयोग करते हैं?
उत्‍तर- डेरी वाले जो देते हैं, वही तो यूज करेंगे। अलग से गाय तो पालने जाएंगे नहीं।
प्रश्‍न- गाय की रक्षा के लि‍ए आप क्‍या करते हैं?
उत्‍तर- हम गाय की रक्षा के लि‍ए मुल्‍लों के इलाके में जाकर आंदोलन करते हैं। वही हमारी गाय काटते हैं।
प्रश्‍न- रामपुर में सबसे बड़ा बूचड़खाना कि‍सी ब्राह्म्‍ण का है और वहां पर सबसे ज्‍यादा गोवंश काटे जाते हैं, इसपर आपके क्‍या वि‍चार हैं?
उत्‍तर- ये सब उन मा******** हरामी स्‍टालि‍न की नाजायज औलादों का फैलाया भ्रमजाल है। एक ब्राह्म्‍ण कभी गोहत्‍या नहीं कर सकता।
प्रश्‍न- बूढ़ी गायों का आप क्‍या करते हैं?
उत्‍तर- तुम्‍हारी गां** में डाल देते हैं चूति‍ये। चूति‍यापे का सवाल क्‍यूं पूछ रहा है
प्रश्‍न- वेदों और कई प्राचीन ग्रंथों में लि‍खा है कि ब्राह्म्‍ण गोमांस खाते थे, इसके बारे में कुछ कहना है?
उत्‍तर- लाओ दि‍खाओ कि‍न वेदों में लि‍खा है। अभी लपेट के तुम्‍हारी गां*** में डाल देते हैं।
प्रश्‍न- क्‍या आप हर चीज को ऐसे ही गां*** में डाल देते हैं?
उत्‍तर- ...........
प्रश्‍न- आवारा गायों के लि‍ए भी क्‍या आपलोग कुछ करते हैं?
उत्‍तर- उनके लि‍ए कांजी हाउस है, हम पकड़कर वहां दे देते हैं।
प्रश्‍न- पर वहां तो सुना है कि उन्‍हें खाने को नहीं मि‍लता, क्‍या ये सही है?
उत्‍तर- ..........
प्रश्‍न- गाय के लि‍....
उत्‍तर- अब भों***** के तुम्‍हें कोई काम धाम नहीं है क्‍या, गाय के अलावा भी बहुत से मुद्दे हैं देश में। उनपर पूछो। चूति‍ये साले गाय गाय कि‍ए पड़े हो।

Post a Comment