Thursday, January 1, 2015

क्‍योंकि आप फेसबुक पर हैं

अगर फैज के ठीक नीचे
आपको नरेंद्र मोदी दि‍खाई दे
तो समझि‍ये कि आप
फेसबुक पर हैं।

भूलिये मत
क्‍योंकि अगली तस्‍वीर आपको
तीसरे मोर्चे की भी दि‍खाई दे सकती है
जंतर मंतर पर हाथ उठाए
रि‍श्‍तेदारी बांधे
क्‍योंकि आप
फेसबुक पर हैं।

अगला स्‍टेटस आपको
एक न चाहती हुई
कवि‍ता भी दि‍खाई दे सकती है
जि‍से आप बि‍लकुल भी पसंद नहीं करते
फि‍र भी लाइक कर देते हैं
क्‍योंकि आप
फेसबुक पर हैं।

इसी बीच एक बि‍ल्‍लि‍यों का वीडि‍यो
एन कवि‍ता के नीचे दि‍खाई देता है
और आप कवि‍ता छोड़कर
वो वीडि‍यो देखने लगते हैं
क्‍योंकि आप
फेसबुक पर हैं।

वीडि‍यो शेयर करने के बाद
आपको दि‍खती है
टांगों से पेंट करने वाली बच्‍ची
और आप उसे तुरंत शेयर करते हैं
क्‍योंकि आप
फेसबुक पर हैं

ठीक उसी के नीचे
आपको मि‍लती है
आप जैसे हर कि‍सी से तंग
एक बेरंग सी पोस्‍ट
जि‍समें है
आपके हर सही को गालि‍यां
आप चुपचाप आगे बढ़ जाते हैं
क्‍योंकि आप
फेसबुक पर हैं।

मान्‍यताओं के समाज में
हम मान्‍यताएं देते देते
कभी भी नहीं थकते। 

Post a Comment